छत्तीसगढ़ सरकार ने धनलक्ष्मी योजना की शुरुआत की है, बालिकाओं को शिक्षा के लिए के लिए आगे बढ़ाना।

इस योजना के अंतर्गत, बालिकाओं को उनके जन्म से लेकर उनकी शादी तक परिवारों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

धनलक्ष्मी योजना के लिए आवेदन करने के लिए कुछ पात्रता मानदंड हैं, जैसे कि छत्तीसगढ़ राज्य का स्थायी निवासी होना और परिवार की आय कम होना

इस योजना के लिए आवेदन करते समय आवश्यक दस्तावेजों में आधार कार्ड, जन्म प्रमाण पत्र, और आय प्रमाण पत्र शामिल होते हैं।

धनलक्ष्मी योजना का उद्देश्य है बेटियों की शिक्षा और उनकी स्वावलंबन क्षमता को बढ़ाना, जिससे कन्या भ्रूण हत्या जैसी समस्याओं का समापन हो सके।